Wednesday, 17 October 2012

उभरती हुई शख्सियत

जेम्स एवं ज्वेलरी इंड्स्ट्री का क्षेत्र बेहद व्यापक है . खासकर भारतीय आभूषणों  की तो अपनी अलग ही विशेषता व महत्ता है व इनकी चमक विश्वप्रख्यात है. हमारा देश भारत सोने की खपत में दुनिया में सबसे आगे है . भारत में होने वाले कुल निर्यात का तकरीबन एक तिहाई हिस्सा जेम्स एवं ज्वेलरी उद्योग द्वारा ही पूर्ण किया जाता है.

ज्वेलरी के प्रति लोगों की बेपनाह चाहत व आकर्षण ने इस क्षेत्र में कैरियर के भी अनेकों विकल्प खोल दिये हैं. बेशुमार दौलत, शौहरत, नाम, रुतबा व अपनी पहचान बनाने हेतु आज की युवा पीढ़ी तेजी से जेम्स एवं ज्वेलरी इंड्स्ट्री की ओर आकर्षित हो रही है. आभूषण हमारी परंपराओं , हमारी विरासत का महत्त्वपूर्ण अंग हैं . समय के साथ इनके स्वरुप , विभिन्न ट्रेन्ड्स में जरुर बदलाव आया है पर इनके प्रति लोगों के मोह व प्रेम में कोई परिवर्तन नहीं आया.

आज अपने ब्लॉग 'Swapnil Jewels ' के माध्यम से  मैं, आप सभी पाठकों का परिचय करा रही हूँ  तेजी से उभरती व ज्वेलरी इंड्स्ट्री में अपना नाम व पहचान बनाती डिज़ायनर ' हिमाँशी शुक्ला' से .

'हिमाँशी शुक्ला'  ने मुख्यत:  इमिटेशन ज्वेलरी के क्षेत्र में विशेष योग्यता हासिल की है. हिमाँशी की ज्वेलरी में बीते दौर और वर्तमान दोनों की खूबसूरत झलक नज़र आती है. साधारण से दिखने वाले बीड्स का उच्च स्तरीय प्रयोग कर उन्हें एक बेहद बेहतरीन व मनमोहक आभूषण  में तबदील करने की कला में  हिमाँशी निपुण है.

अभी करीब एक वर्ष पूर्व एक प्रॉजेक्ट के सिलसिले में मेरी मुलाकात हिमाँशी से हुई. जब हिमाँशी ने उसके द्वारा बनायी गई इमिटेशन ज्वेलरी के कुछ पीसेस मुझे दिखाये, तो मैं तो उसकी रचनात्मकता व बेहतरीन कारीगरी की कायल हो गई. इसमें तनिक भी संदेह नहीं कि हिमाँशी का कार्य अत्यंत सराहनीय है .

आज हिमाँशी मेरी डिज़ायन टीम का हिस्सा है. मेरी असिस्टेंट डिज़ायनर के रुप में उसके कार्य की मैं,  जितनी तारीफ करुँ उतनी कम है. बस मैं तो यही कामना करती हूँ कि जेम्स एवं ज्वेलरी इंड्स्ट्री में हिमाँशी अपनी एक सफल पहचान स्थापित करे  और ज्वेलरी उद्योग की दमकती दुनिया में  सदैव एक सितारे के रुप में चमकती रहे व जगमगाती रहे. बस इसी दुआ के साथ आप सभी के समक्ष पेश है ' हिमाँशी शुक्ला' का ज्वेलरी क्लेक्शन  ' Combination & Contrast' .


Jewellery Collection ' Combination & Contrast ' By Miss Himanshi Shukla -



















Presented & Posted By -
                           
                                        - स्वप्निल शुक्ल

copyright©2012Swapnil Shukla.All rights reserved
No part of this publication may be reproduced , stored in a  retrieval system or transmitted , in any form or by any means, electronic, mechanical, photocopying, recording or otherwise, without the prior permission of the copyright owner.