Wednesday, 4 July 2012

Well said :

WELL SAID :



मेशा आगे बढ़ने की चाह,
आगे बढ़ते हुए जीतने का जुनून ,
समय से भी आगे चलने का हौसला,
हवाओं का रुख पलटने का विश्वास,
हर एक चीज़ को मुठ्ठी में करने का जज़्बा,
जीतना, जीतना और सिर्फ जीतना..............

                                       स्वप्निल शुक्ल

 copyright©2012Swapnil Shukla.All rights reserved

3 comments: